Month: नवम्बर 2017

जिंदगी में सवाल। 


सवाल करती हूँ तो मन कहता है तू खुलकर सवाल कर।
जवाब तो मिलेगा मन कहता है थोड़ा और इंतजार कर।
बेचैनी बढ़ती है तो बढ़ने दे, सकूंन जाता है तो जाने दे।
आँसू बहते हैं तो बह जाने दे, तेरी खुशी तुझे मिलेगी बस धीरज धर सब़ तो कर।
रजनी अजीत सिंह 30.11.17

#सवाल_१
#जवाब़
#इंतजार
#yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में लक्ष्य। 

सफलता जवाब हो तुझे वो सवाल बनना है।
लक्ष्य ही तेरे दिलो दिमाग पर छाया रहे वो ख्याल बनना है।
रजनी अजीत सिंह 29.11.17
#सफलता_का_रहस्य, #लक्ष्य #सवालजबाब, #yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में रिश्ते। 

अभी रिश्ते तोड़ने से टूटे नहीं है।
रिश्तों को निभाने की अभी आस बाकी है।
रिश्तों में मिले झूठ से जख्म गहरे हैं।
मेरे जख्म पर मरहम भी लगेगा ये विश्वास बाकी है।
जब भी भूलना चाहती हूँ, बच्चों की किलकारी सी गूँजती है कानो में।
एक माँ की आस पूरी होगी कभी।
जब तक सांस तब तक आस मेरे अंदर ये विश्वास बाकी है।
रजनी अजीत सिंह 30.11.17
#रिश्ते, #जख्म़ #विश्वास #yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में वही रिश्ता अपना सा। 


मुझे वो ही रिश्ता अपना और सबसे करीब लगता है जिसमें खुलकर बातें कर लो।
और मुझे वही रिश्ता प्यार से भरा लगता है,
जो बिना कुछ कहे भी छुपा दर्द भी समझ ले।
मैं ऐसे रिश्तों के लिए ईश्वर से हमेशा मनत माँगती हूँ कि ऐसे रिश्ते कभी न टूटे।
इन रिश्तों में हमेशा प्यार ही प्यार पलता रहे।
चाहे दूर रहें या पास पर मन से हमेशा करीब और अबाद रहे।
रजनी अजीत सिंह 29.11.17
#yqbaba #yqdidi #दर्द्, #प्यार्, #रिश्ता

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में अति से बचे। 


हर रिश्ते को प्यार से निभाने के लिए अहतियात बर्तना जरूरी है।
रिश्तों के टूट के विखरने के कारण है हद के पार जाना। यानी किसी भी चीज की अति या अधिकता हानिकारक है।
किसी ने ठीक ही कहा है –
ना अति वक्ता न अति चूप, न अति वर्षा न अति धूप।
रजनी अजीत सिंह
#रिश्तेंही, #प्यार् #yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में दर्द। 


दर्द को जानकर भी अनजान बने रहने की कोशिश भी जिंदगी का सबसे बड़ा दर्द है।
इसलिए दर्द को अनदेखा कर देना ही बेहतर है खुशी से जिंदगी जीने के लिए।
कुछ बड़े दर्द ऐसे होते हैं जिसकी न दवा है न दुंआ। ऐसे दर्द को जिंदगी में बस बर्दास्त कर ही जीना पड़ता है इसी का तो नाम जिंदगी है।
रजनी अजीत सिंह 28.11.17
#दर्द__, #जिंदगीi, #yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में इंतजार। 

मैं थककर सो गई इंतजार कर सवाल का जवाब पाने के लिए।
वो तो आगे बढ़ गया मुझसे अनजान बना रहने के लिए।
रजनी अजीत सिंह
#इंतजार #सवाल_१ #अनजान #yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी में प्यार और ख्याल। 

ख्याल उनका आया तो रात आँखों में गुजर गई।
आज मेरी प्यार की दौलत अपनों में ही कई भागों में बंट गई।
रजनी अजीत सिंह 28.11.17,
#प्यार्, #दौलत #yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

जिंदगी दो धारी तलवार। 

सम्मोहन के दो धारी तलवार चले तो जीत हार का प्रश्न कहाँ।
आवश्यकता ही विज्ञान की जननी विज्ञान भी दो धारी तलवार है।
क्षत्रीय कुल में जन्म लिया क्षत्राणी कहलाती हूँ। सीमा पर रक्षा और अपनी सुरक्षा के खातिर

  त्रिशूल, धनुष, करवाल और पिस्तौल चला बेआबरू करने वाले पर वार कर जाती हूँ। 

 मैं धरती की बेटी बनकर विजय पताका फहराती हूँ।

रजनी अजीत सिंह