महीना: दिसम्बर 2019

नये साल की हार्दिक शुभकामनाएं

चमकेंगे हम ऐसे इस साल में,
चमकते हैं जैसे सितारे आसमान में।
लिखना हमें है स्वदेश को अपने कहानी में,
देश को बचाना है अपने आग की लपटों से खून के धब्बों से।
देखो नया साल आ गया कुछ संकल्प ले, कर गुजरने को।
जिंदगी में कुछ अँधेरा कुछ उजाला यह नियति का खेल है।
मिलतीं रहे खुशियाँ सबको हर हाल में,
दो चार बोल प्यार का सबसे मिलता रहे नये साल में।खुशियों के उजालों को लिखूँ मैं शब्दों से,
जैसे जिंदगी के झरोखे से झाँक रहे खुशियों के पल हों।
देखो फिर नया साल आ गया कुछ संकल्प ले, कर गुजरने को।
रजनी अजीत सिंह 1.1.2020
नये साल की नयी उम्मीदों के साथ नये साल की हार्दिक शुभकामनाएं ।
की हार्दिक शुभकामनाएं।

नये साल की नई उम्मीद 

अरे! नये साल में नयी उम्मीदें लेकर आया नया साल।
अरे! सबको बधाई नये साल की, मम्मी – पापा ,भाई-बहना, दीदी-जीजा, चाचा-चाची बेटी-बेटा सबको ही।
अरे! जो साथ रहे हैं उनको भी, जो दूर रहे हैं उनको भी, जो देश में है उनको भी, जो विदेश बसे हैं उनको भी।
अरे! जो दोस्त बने हैं उनको भी, जो बिछड़ गए हैं उनको भी।अरे! सबको बधाई-सबको बधाई मेरी तरफ से सबको बधाई।

रजनी सिंह 1.1. 2017

शब्दों का सफर पब्लिश

बड़े हर्ष के साथ सूचित कर रही हूँ कि मेरी पहली किताब “जिदंगी के एहसास” के बाद

Please find the links below

FLIPKART

https://www.flipkart.com/zindagi-ke-ehsaas/p/itmfawrrfesgnbqf?pid=9789388427494

SHOPCLUES

https://www.shopclues.com/zindagi-ke-ehsaas-142446637.html

Amazon
https://www.amazon.in/dp/B07K6NXJ62

BlueRose

Zindagi ke ehsaas

दूसरी बुक “शब्दों का सफर” भी पब्लिश हो गया है जो कल तक आनलाइन विभिन्न लिंक पर उपलब्ध हो जायेगा।

रजनी अजीत सिंह 18.12.2019