मकर संक्रांति। 


हिन्दुओ का पर्व मकर संक्रांति है।
ये पर्व तब मनता है, 

जब सूर्य मकर राशि पर होता है।

चौदहवे या पन्द्रहवे दिन जनवरी माह में मनता है। 

भक्ति उत्साह के साथ-साथ, विभिन्न रीति रिवाजों से मनता है। 

नाम खिचड़ी से विहार में जाना जाता है। 

सुनने को मिलता आज का दान , सौ गुना फल ले आता है। 

इसका कुछ ऐतिहासिक महत्व भी है। 

आज के दिन भगवान् भास्कर अपने पुत्र शनि से घर मिलने जाते हैं। 

आज के दिन ही गंगा जी भागीरथ के  पीछे – पीछे चलकर, 

कपिलमुनि के आश्रम से होती, सागर में जाकर मिली थी। 

तील, चूड़ा, चावल और ढूँढा, दाना आदि दान दिलाता है ।

आसमान में उड़ता पतंग, कटता पतंग जी को बहुत ही भाता है। 

खिचड़ी ऐसे ही मनता है। 

बधाई हो  सबको मकर संक्रांति का जो पढ़े उसको भी, जो दूर रहे हैं उनको भी  जो पास रहें हैं उसको भी।

रजनी के तरफ से सबकोबधाई हो।
रजनी अजीत सिंह 15.1.18
#yqbaba
#yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote

2 विचार “मकर संक्रांति। &rdquo पर;

टिप्पणियाँ बंद कर दी गयी है।