जिंदगी में बुआ को श्रद्धांजलि सुमन

हर जगह अब आपकी याद आयेगी।
आपके साथ बीते लम्हों को कैसे भूल पायेंगे।

रोगरूपी दुःखो से लड़ने की वो हिम्मत हम आपसे बस अब सीख पायेंगे?
बड़ा दुख है कि श्रद्धा के दो सुमन भी हम न चढ़ा पायेंगे।
इसलिए अब श्रद्धांजलि स्वरूप अपने शोक से व्याकुल दो शब्दों से ही बस श्रद्धां सुमन चढ़ा पायेंगे।

साथ तो ईश्वर ने हम से छिन लिया, पर यादों में हमेशा बसकर हमारा साथ आप निभाएंगी।

5.11.17 😢रजनी अजीत सिंह😢
#yqbaba #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/rajnisingh #yourquote