“जिदंगी” (गाना)

जिंदगी माँ के ही नाम हैऽऽऽऽ।
मां का आया ये पैगाम है ऽऽऽऽ।
देने को तो बहुत कुछ दिया ऽऽऽऽ।

देने में तो कमी न किया ऽऽऽऽ।
जितना “माँ ने दिया है सभी कोऽऽऽऽ।
एक टुकड़ा भी डाला नहीं ऽऽऽऽ।


जिंदगी माँ के———।

मां का आया ये पैगाम है ऽऽऽऽ।

मां ने दौलत दिया माँ शौहरत दिया ऽऽऽऽ।

मां ने गाड़ी दिया माँ ने बंगला दिया है सभी को ऽऽऽऽ।

जिंदगी माँ के ही नाम है ऽऽऽऽ।

मां का आया ये पैगाम है ऽऽऽऽ

जिंदगी माँ के ही है शरनऽऽऽऽ।

उनको सुख – दुख सुनाते रहे ऽऽऽऽ।

जिंदगी माँ के ही नाम है ऽऽऽऽ।

मां का आया ये पैगाम है ऽऽऽऽ।

 “जिदंगी” (गाना)&rdquo पर एक विचार;

टिप्पणियाँ बंद कर दी गयी है।